‘दिल्ली प्रीमियर लीग’ की रंगारंग शुरुआत से अंबेडकर स्टेडियम में लौटी फुटबॉल की रौनक, नई टीम वाटिका ने बिजॉय गुसाई के गोल से हिंदुस्तान क्लब को दी मात -

‘दिल्ली प्रीमियर लीग’ की रंगारंग शुरुआत से अंबेडकर स्टेडियम में लौटी फुटबॉल की रौनक, नई टीम वाटिका ने बिजॉय गुसाई के गोल से हिंदुस्तान क्लब को दी मात

Share us on
443 Views

श्री सतीश उपाध्याय फुटबॉल पर किक मरते हुए।

मैच से पूर्व दोनों टीमें और अधिकारी।

राकेश थपलियाल 

नई दिल्ली। फुटबॉल दिल्ली द्वारा आयोजित ‘दिल्ली प्रीमियर लीग’ का पहला मैच नई शामिल टीम वाटिका एफ सी ने राजधानी की नामी टीम हिंदुस्तान एफ सी को कड़े मुकाबले में बिजॉय गुसाई के पहले हाफ में किए गोल की मदद से 1-0 से हराकर विजई शुरुआत की। ‘ दिल्ली प्रीमियर लीग’ का शुभारम्भ भाजपा के नेता और एनडीएमसी के वाइस चेयरमैन श्री सतीश उपाध्याय ने फुटबॉल पर किक मारकर  किया। इसके साथ ही अंबेडकर स्टेडियम के हरी घास की चादर ओढ़े मैदान पर फुटबॉल की रौनक लौट आई।

मैच की विजेता वाटिका एफ सी के खिलाड़ी।

श्री सतीश उपाध्याय को स्मृति चिन्ह देते हुए फुटबॉल दिल्ली के अध्यक्ष श्री शाजी प्रभाकरण।

‘दिल्ली प्रीमियर लीग’ के कुछ मैच नेहरू स्टेडियम में भी खेले जाने थे लेकिन पता चला है कि मैदान का एक हिस्सा धंसने की वजह से वहां मैच नहीं हो सकेंगे।

शुक्रवार को मैच समाप्त होने के बाद एक फुटबॉल क्लब के अधिकारी से मुलाकात हुई। हम दोनों ही कुछ वर्ष पूर्व तक हिंदुस्तान टाइम्स ग्रुप में काम करते थे। इस आधार पर उन्होंने मेरी टी शर्ट को देख तंज कसते हुए कहा,  “राकेश फुटबॉल के आयोजन में टेनिस की टी शर्ट पहनी हुुई है। यहां तो कम से कम फुटबॉल की टी शर्ट पहननी थी।”

यह सही है कि मैंने ‘टेनिस प्रीमियर लीग’ के लोगो वाली टी शर्ट पहनी हुई थी और फुटबॉल की दिल्ली प्रीमियर लीग के मैच को देखने अंबेडकर स्टेडियम पहुंचा हुआ था। इस पर मैने कहा, “क्या करूं, भाईसाहब टेनिस की प्रीमियर लीग के आयोजकों ने मुझे टी शर्ट दी थी, लेकिन फुटबॉल की दिल्ली प्रीमियर लीग के आयोजकों ने टी शर्ट नहीं दी तो फुटबॉल की टी शर्ट कहां से पहनूं।

वैसे टेनिस के लोगो वाली टी शर्ट पर प्यार भरी आपत्ति करने वाले भाईसाहब को निश्चित रूप से पता नहीं होगा कि उनके राज्य के संगठन ‘फुटबॉल दिल्ली’ ने जिन महानुभाव श्री सतीश उपाध्याय को को मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया था वह दिल्ली लॉन टेनिस एसोसिएशन (डीएलटीए) के वाइस प्रेसिडेंट हैं!!

मैच पर वापस लौटते हैं, लगभग सौ दर्शकों की मौजूदगी में अच्छी फुटबॉल देखने को मिली।  दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने एक दूसरे को चोटें भी लगाईं जिससे मैच बहुत बार रुका।

दोनों की रक्षापंक्ति मजबूत रही लेकिन पहले हाफ के दसवें मिनट में जो गोल हुआ उसमे हिंदुस्तान के गोलकीपर नबा कुमार घोष की बड़ी गलती रही। वह बाएं छोर से हवा में उड़ती हुई फुटबॉल को गोलमुख पर ठीक से पड़ने में सफल नहीं रहे और फुटबॉल उनके हाथों से छिटक कर विपक्षी खिलाड़ी की तरफ गई जिन्होंने फुटबॉल को गोल में डालने के लिए किक किया पर फुटबॉल रक्षक से टकरा कर रिबाउंड पर सामने खड़े फॉरवर्ड बिजॉय गुसाई की तरफ गई और उन्होंने गोल करने में कोई गलती नहीं की।

वाटिका एफ सी के लिए उनके रक्षक साहिल ने शानदार खेल दिखाया और इसलिए उन्हें मन ऑफ द मैच आंका गया तथा न्यूज 18 के डायरेक्टर राजीव गुप्ता ने साहिल को पुरस्कार की ट्रॉफी दी।

श्री गुप्ता वर्षों पहले हिंदुस्तान टाइम्स अखबार के फोटोग्राफर हुआ करते थे। उन्होंने कहा, “आज लाइन के इस तरफ रहकर अलग तरह की अनुभूति हो रही है।”

न्यूज18 के डायरेक्टर श्री राजीव गुप्ता वाटिका एफ सी के रक्षक साहिल कुमार को मन ऑफ द मैच की ट्रॉफी देते हुए।

शनिवार के मैच: 

रॉयल रेंजर्स बनाम उत्तराखंड : 1.30 बजे से।

फ्रेंड्स यूनाइटेड बनाम इंडियन एयरफोर्स : 4.30 बजे से।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.